मैं दोस्तों अमित हूँ। यह कहनी ज्यादा तो पुरानी नहीं है लार बस पिछले साल की ही है। उस समय मैं पढ़ने के लिए बुआ के घर गया था। उनके घर के बारे में बात करूं तो बहुत सारे कमरे थे...